Sunday, 3 June 2012

कुछ सवाल इन आँखों में


इन आँखों में कुछ बेचैन बेकरार से सवाल
उन आँखों में बस खामोश खामोश से जवाब
मौन से मौन का एक सशक्त संवाद --------

===========दिव्या ============