Saturday, 1 September 2012

हाँ --मैने उसे मार दिया !



1 comment:

  1. सोचने को मजबूर करती है आपकी यह रचना ! सादर !

    ReplyDelete