Thursday, 16 January 2014

स्त्री -सौंदर्य की गरिमा



हर स्त्री  सुन्दर होती है --

सुंदरता उम्र की मोहताज नहीं होती है --

न ही औरत कमजोर और मोहताज होती है

हर उम्र की गरिमा होती है -

गरिमामयी औरत आत्मविश्वास से भरपूर होती है

वह कमजोर नहीं वह पुरुष की प्रेरणा होती है

शक्ति होती है ---वह सहेजती है संवारती है पुरुष को

वो माँ /बहन /प्रिया /पत्नी /हर स्वरूप में

--और भरसक प्रयास करती है

समाज को एक उत्तम पुरुष देने का

----------दिव्या -----